खुद को आजमाने के लिए अहम होगा सुल्तान अजलन शाह कप: सुरेंदर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम के उप कप्तान सुरेंदर कुमार ने बुधवार को कहा कि 2020 ओलिंपिक के लिए क्वॉलिफाइंग टूर्नमेंट से पहले आगामी सुल्तान अजलन शाह कप युवाओं के लिए खुद को आजमाने का अच्छा मौका होगा। भारत 28वें सुल्तन अजलन शाह कप में युवा टीम को उतारेगा जिसमें हार्दिक सिंह, विवेक सागर प्रसाद, सुमित, नीलकांत शर्मा, सुमित कुमार (जूनियर), गुरिंदर सिंह, सिमरनजीत सिंह और गुरजंत सिंह शामिल हैं। इन खिलाड़ियों ने सीनियर टीम के साथ अंतरराष्ट्रीय आगाज के बाद अपार संभावनाएं दिखाई हैं। 


सुरेंदर ने कहा, ‘सुल्तान अजलन शाह कप हमेशा ही युवाओं के लिए अच्छा मंच रहा है जिससे वे देख सकते हैं कि वे अंतरराष्ट्रीय मानकों के हिसाब से कैसे अनुकूलित हो सकते हैं। हमें इस साल जो 2020 ओलिंपिक गेम्स के क्वॉलिफाइंग टूर्नमेंट खेलने हैं, उससे पहले इस टूर्नमेंट में खेलकर उनके अनुभव में इजाफा होगा।’ टीम यहां भारतीय खेल प्राधिकरण के शिविर में अभ्यास में जुटी है। 



उन्होंने कहा, ‘इनमें से कुछ खिलाड़ियों ने एफआईएच चैंपियंस ट्रोफी और 2018 पुरुष वर्ल्ड कप में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है, जिससे उनका आत्मविश्वास बढ़ा है। हम उनसे ऐसी परिस्थितियों में नियमित रूप से दबाव झेलने के बारे में बात कर रहे हैं जब हम 1 या 2 गोल से पिछड़ रहे हों। उनका अच्छा प्रदर्शन हमारी टीम के लिए फायदेमंद साबित होगा जो तोक्यो 2020 ओलिंपिक गेम्स के लिए अहम होगा।’ 

23 मार्च से शुरू होने वाले टूर्नमेंट में भारत की उम्मीदें पूछने पर उन्होंने कहा, ‘लक्ष्य गोल्ड मेडल जीतना है लेकिन हम फाइनल के बारे में सोचकर इस टूर्नमेंट में नहीं जा रहे। हम 1-1 कदम आगे बढ़ेंगे। हमारा पहला मैच जापान से है और फिर कोरिया से। अच्छी शुरुआत करना अहम है।’

Related posts

Leave a Comment