मुंहासों की समस्या को दूर करता है लौंग का तेल, जानिए कैसे

वैसे तो मुंहासों की समस्या आमतौर पर ऑयली स्किन में देखी जाती है। गर्मी के मौसम में जब चेहरे से अतिरिक्त तेल का स्त्राव होता है तो इससे मुंहासों की समस्या भी काफी बढ़ जाती है। वैसे तो आपने मुंहासों को दूर करने के लिए कई उपचार किए होंगे, लेकिन अभी तक आपको खास फायदा नहीं हुआ है तो अब आप लौंग के तेल का प्रयोग करें। लौंग का तेल मुंहासों को दूर करने में बेहद प्रभावी तरीके से काम करता है। जानिए कैसे−

ऐसे करता है काम

लौंग के तेल में एंटी−बैक्टीरियल, एंटी−इंफलेमेटरी व एंटी सेप्टिक प्रॉपर्टीज पाई जाती हैं, जिसके कारण आप प्राकृतिक रूप से एक्ने का उपचार कर पाते हैं। इसके अतिरिक्त इसमें यूजेनॉल नामक तत्व पाया जाता है जो मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करता है। साथ ही स्किन में मौजूद रेडनेस और सूजन को भी दूर करता है। 

 लौंग का तेल व जैतून का तेल

लौंग के तेल का प्रयोग जैतून के तेल के साथ किया जा सकता है। इसके लिए दो बूंद लौंग का तेल व दस बूंदे जैतून का तेल मिक्स करके उसे प्रभावित स्थान पर लगाएं। वैसे आप चाहें तो जैतून के तेल के स्थान पर नारियल के तेल का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। करीबन 15−20 मिनट बाद चेहरे को वॉश करें। अंत में स्किन पर मॉइश्चराइजर का प्रयोग करें। 

लौंग का तेल व मॉइश्चराइजिंग लोशन


जिस मॉइश्चराइजिंग लोशन का प्रयोग आप रोजमर्रा के दिन में करते हैं, उसमें भी आप कुछ बूंदे लौंग का तेल मिक्स करके स्किन पर अप्लाई कर सकती हैं। इससे कुछ ही दिनों में आपको फर्क नजर आने लगेगा। 

इसका रखें ध्यान

लौंग का तेल काफी स्टांग होता है, इसलिए कभी भी इसे किसी अन्य तत्व में मिलाकर ही प्रयोग करें। अन्यथा आपको स्किन में जलन व अन्य समस्याएं हो सकती हैं। कभी भी लौंग के तेल को चेहरे पर अप्लाई करने से पहले एक बार पैच टेस्ट अवश्य करें। दरअसल, कई बार सेंसेटिव स्किन या कुछ महिलाओं को लौंग का तेल सूट नहीं करता। लौंग का तेल चेहरे पर लगाकर लंबे समय के लिए न छोड़ें। अगर आप इसे लंबे समय तक स्किन पर लगाते हैं तो इससे चेहरे में इचिनेस व रेडनेस हो सकती है। 

Related posts

Leave a Comment