Loksabha Election 2019: पीलीभीत में 66.93 और बरेली में 61 फीसद हुआ मतदान

जेएनएन, बरेली : लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण में मंगलवार को रुहेलखंड मंडल की बरेली, आंवला, पीलीभीत और बदायूं संसदीय सीट के मतदाताओं का उत्साह देखने लायक है। सुबह सात बजे मतदान प्रक्रिया प्रारंभ होने से पूर्व ही मतदान केंद्रों और बूथों पर लोग पहुंचने लगे। बूथ का प्रथम वोटर बनने और प्रमाण पत्र हासिल करने के लिए तमाम लोग दैनिक दिनचर्या छोड़कर पहले वोट डालने पहुंचे। सबसे ज्यादा मतदान पीलीभीत जिले में 66.93 फीसद हुआ। जबकि दूसरे नंबर पर बरेली में 61.00 और आंवला में 58.92 फीसद मतदान हुआ। बदायूं सबसे ज्यादा फिसड्डी साबित हुआ। यहां केवल 58.83 प्रतिशत वोट डाले गए। बरेली में गजेंद्र प्रताप सिंह बने बूथ के पहले वोटर सुबह सात बजे शहर में बारादरी, इज्जत नगर, किला, राजेंद्र नगर, कांधरपुर, नरियावल, नकटिया के बूथों पर लोकतंत्र के उत्सव सा ही नजारा देखने काे मिला। अनुपम नगर निवासी गजेंद्र प्रताप सिंह सुबह सात बजे से पहले ही सेंट एंड्रूज हायर सेकेंडरी स्कूल के बूथ नंबर 81 पर पहला वोट डालने पहुंच गए। वहीं, राजीव कॉलोनी निवासी निशा अपनी बेटी वैष्णवी के साथ वोट डालने पहुंची। यहां मॉकपोल के चलते करीब 15 मिनट देरी से मतदान शुरू हो सका। खालसा इंटर काॅलेज में भाग संख्या 93 पर पोलिंग एजेंट विनय कुमार ने पहला वोट डाला। विदाई से पहले वोट डालने पहुंची दुल्हन मीरगंज के मुहल्ला राजेंद्रनगर के लालता प्रसाद की पुत्री मधु की शादी सोमवार हुई। बहेड़ी के भूड़ा गांव से बरात आई। पूरी रात शादी से जुड़े कार्यक्रम सम्पन्न हुए। आज सुबह घर विदाई कार्यक्रम से जुड़ी तैयारियां चल रही थी। इस बीच मधु ने वोट डाले जाने की इच्छा जाहिर की। जिसे दूल्हा यश पाल ने अपनी सहमति देने में देर नहीं की। मधु स्थानीय राजेंद्र प्रसाद इंटर कॉलेज आदर्श मतदान केंद्र पर सुबह करीब आठ बजे पहुंची और अपना वोट डाला। इस दौरान पिता लालता प्रसाद जो मीरगंज नगर पंचायत बोर्ड के सभासद भी हैं बेटी को लेकर बूथ पर पहुंचे थे। वोट डालकर मधु वापस अपने बाप के साथ घर पहुंची। उसके बाद उनका विदाई कार्यक्रम हुआ।

Related posts

Leave a Comment