ग्रीन टी भी कर सकती है स्किन का कायाकल्प, जानिए कैसे

एक हेल्दी और ग्लोइंग स्किन की चाहत किसे नहीं होती। यूं तो लोग अपनी स्किन को बेहतरीन बनाने के लिए कई तरह के प्रयास करते हैं और इसके लिए काफी पैसा भी खर्च करते हैं। इससे भले ही आपको रिजल्ट मिल जाए, लेकिन इससे जेब पर काफी दबाव पड़ता है। अगर आप बेहद कम पैसों में स्किन का ख्याल रखना चाहते हैं तो ग्रीन टी की मदद लें। ग्रीन टी सेहत के लिए तो लाभदायक मानी ही जाती है, यह स्किन के लिए भी उतनी ही फायदेमंद है। जी हां,…

Read More

FingerPrint बचानी हैं तो शेकहैंड नहीं, नमस्ते करिये, स्किन स्पेशलिस्ट दे रहे सलाह

चंडीगढ़। हाथों की लकीरों में लिखी होती है तकदीर .. यह लाइन कहती है कि हाथों की लकीरों में भविष्य लिखा होता है। लेकिन अब इन लकीरों पर खतरा मंडराने लगा है। इससे फ्यूचर छोड़िए वर्तमान बचाना मुश्किल होने लगा है। बायोमैट्रिक आइडेंटिटी प्रूफ के दौर में लोगों के अंगुलियों की लकीरें मिट रही हैं। ऐसा हो रहा है फिंगर प्रिंट एग्जिमा (Finger print eczema) नामक स्किन प्रॉब्लम से। जो एक अंगुली से शुरू होकर दोनों हाथों की सभी लकीरों को मिटा दे रही है। इस समस्या से कोई बैंक अकाउंट…

Read More

गर्मी के मौसम में इस तरह झटपट बनाएं मजेदार मैंगो मिल्कशेक

गर्मी के मौसम में तपती धूप भले ही किसी को अच्छी न लगती हो लेकिन इस मौसम में लोग एक चीज के दीवाने होते हैं और वह है आम। आम को फलों का राजा यूं ही नहीं कहा जाता। इसका लाजवाब स्वाद हर किसी के दिल को भाता है। आम को यूं तो लोग कई तरह से खाते हैं, लेकिन अगर आप चाहें तो इसकी मदद से मैंगो मिल्कशेक भी बना सकते हैं। बनने में बेहद आसान इस डिंक का स्वाद में कोई सानी नहीं है। तो चलिए जानते हैं…

Read More

अब मोबाइल एप्लीकेशन बताएगा कब लेनी है दवा और कब जाना है डॉक्टर के पास

 ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे हाई ब्लड प्रेशर और हार्ट के मरीजों को भी अब समय रहते उपचार मिल पाएगा। भारत और आस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों के एक समूह ने एक ऐसा मोबाइल एप बनाया है जो डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों (आशा) को दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले हाई ब्लड प्रेशर और हार्ट के मरीजों के बारे में बताएगा और उनकी निगरानी का प्रबंध भी करेगा। ‘पीएलओएस जनरल’ में प्रकाशित किए गए एक अध्ययन में यह जानकारी दी गई। क्लीनिकल डिसीजन सपोर्ट सिस्टम (सीएसडीएस) पर आधारित यह एप एंड्रॉइड फोन पर…

Read More

टीवी देखने से बच्चों में मधुमेह का खतरा ज्यादा

एक नये अध्ययन में चेतावनी दी गई है कि दिन में तीन घंटे से अधिक समय तक टीवी, स्मार्टफोन या टैबलेट का इस्तेमाल करने वाले बच्चों को मधुमेह का खतरा अधिक हो सकता है. अधिक देर तक टीवी या मोबाइल स्क्रीन पर समय बिताने से शरीर में वसा एवं इंसुलिन की प्रतिरोध क्षमता का संतुलन बिगड़ जाता है. अग्नाशय द्वारा तैयार किए जाने वाले हार्मोन इन्सुलिन का कार्य रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करना होता है. शोधार्थियों ने चयापचय एवं कार्डियोवैस्कुलर जोखिम की श्रंखला के अध्ययन के लिये ब्रिटेन…

Read More