जेटली का कांग्रेस पर निशाना, बोले- डूबते राजवंश को बचाने के लिए और कितने झूठ बोलने पड़ेंगे

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने एक बार फिर कांग्रेस पार्टी पर हमला बोला है। इस बार उन्होंने एक ब्लॉग के जरिए कांग्रेस पर निशाना साधा है। जेटली ने कहा कि यह बहुत दुख की बात है कि भारत की सबसे पुरानी पार्टी एक वंश के चक्कर में फंस गई है। इस पार्टी के नेताओं में इतनी भी हिम्मत नहीं कि सही और गलत का निर्णय ले सकें। उन्होंने कहा कि आखिर एक डूबते राजवंश को बचाने के लिए कितने झूठ बोलने पड़ेंगे। उन्होंने कहा कि दुनियाभर के ज्यादातर लोकतंत्रों में जो लोग झूठ बोलते हैं और झूठ के सहारे ही आगे बढ़ते हैं वह अपने आप ही सामाजिक जीवन से गायब हो जाते हैं।

जेटली ने कहा कि आधुनिक दुनिया में जितने भी राजनीतिक वंश हैं उनकी कुछ सीमाएं हैं। इसकी शुरुआत 1970 में हुई थी। जेटली ने कहा कि पार्टी में नौकर वाली मानसिकता ने यह समझ लिया है कि सिर्फ एक परिवार का ही गुणगान करना है। स्थिति यह है कि पार्टी में वंश झूठ बोलता है तो सभी नेता भी वही करने लगते हैं।

जेटली ने महागठबंधन को महाझूठबंधन करार दिया है। राफेल डील से जनता के हजारों करोड़ रुपए बच गए हैं लेकिन उसे भी झूठ बोलकर प्रसारित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अब नया झूठ राफेल मामले में संसद में पेश की गई सीएजी रिपोर्ट को लेकर फैलाया जा रहा है। जेटली ने कहा कि वर्तमान सीएजी 2014-15 आर्थिक मामलों के सचिव थे। तब वह वित्त मंत्री थे। तब उनके पास राफेल संबंधी कोई फाइल नहीं आई थी। लेकिन अब एक अखबार में छपी झूठी रिपोर्ट के आधार पर कठघरे में खड़ा करने की कोशिश की जा रही है।

Related posts

Leave a Comment